पहली बार फ्लाइट में सफ़र के ये टिप्स

अक्सर यह देखा गया है कि लोगों को बस या वाहन में बैठकर उल्टी की समस्या होने लगती है या वे मिचली महसूस करने लगते हैं, जिससे विज्ञान की भाषा में मोशन सिकनेस हो जाता है, उसी तरह उड़ान के दौरान कई लोगों को असुविधा होती है और यात्रा। यहां तक ​​कि उड़ान में, यात्रा के दौरान उल्टी होना आम है, जबकि कुछ लोगों को सिरदर्द या अन्य समस्याएं होने लगती हैं, इसलिए इन समस्याओं से बचने के लिए आते हैं। हम आपके साथ कुछ खास टिप्स शेयर करने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप इससे बच सकते हैं, बस इसके लिए आपको फ्लाइट में बैठने से पहले कुछ समय के लिए योगा करना होगा, जी हां, योगासन करके आप इन समस्याओं को दूर कर सकते हैं।

ई-टिकट की कॉपी और पहचान पत्र साथ रखें

अपने साथ हवाई टिकट की हार्ड कॉफी के साथ एक सॉफ्ट कॉपी यानि ई टिकट जरूर रखें क्योंकि बिना टिकट के आपकी एयरपोर्ट पर एंट्री भी नहीं होगी। अपने मोबाइल में आप टिकट की ई कॉपी साथ रख सकते हैं। इसके बिना आपको बोर्डिंग पास नहीं मिलेगा और आपकी यात्रा रद्द भी हो सकती है। अगर आपके पास ई टिकट है तो इसपर अपनी पहचान साबित करने के लिए आपको कोई पहचान पत्र साथ रखना होगा जैसे आधार, पैन या पासपोर्ट आदि।

पहले पहुंचे

जब भी आप बस या ट्रेन से सफर करते हैं तो आप वहां पर 20 या 25 मिनट पहले पहुंचते हैं लेकिन जब भी आप फ्लाइट से सफर करें तो याद रहे कि आपको कम से कम डेढं घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचना होगा। बता दें कि एयरपोर्ट पर चेकिंग और इमिग्रेशन के दौरान काफी समय लग जाता हैं।

टिकट नहीं बोर्डिंग पास से मिलेगी जहाज में एंट्री

आमतौर पर बस या ट्रेन के सफर के मामले में हम टिकट लेकर सीट पर बैठ जाते हैं लेकिन हवाई यात्रा के मामले में ऐसा नहीं होता है। आपने जो टिकट ऑनलाइन या ऑफलाइन बुक कराई है उसे दिखाकर आपको बोर्डिंग पास लेना होता है इसी से आपको हवाई जहाज में एंट्री मिलती है। जिस भी एयरलाइन की आपने टिकट बुक कराई है उसका काउंटर एयरपोर्ट पर होता है वहां टिकट दिखाकर आप बोर्डंग पास ले सकते हैं।

ध्यान रखें

आपको चेक इन काउंटर पर बोर्डिंग पास और आईकार्ड दिखाना होगा। चेकिंग प्रोसेस के बाद बैग्स का वेट चैक होता हैं और फिर आपके बैग पर टैग लगागर फ्लाइट के कार्गो सेक्शन में भेजेंगे, जो लैंडिंग के समय आपको हैंडओवर कर दिया जाएगा। अपने साथ वर्जित सामान जैसे नुकीली चीजें, हथियार, लाइटर, ब्लेड, कैंची, जहरीली, रेडियोएक्टिव और विस्फोटक सामग्री न रखें।

किस एयरपोर्ट से फ्लाइट उड़ेगी इसे जांचे

आमतौर पर फ्लाइट किस एयरपोर्ट से उड़ान भरेगी इसकी जानकारी टिकट पर लिखी होती है अगर आपकी टिकट पर यह जानकारी नहीं है तो तुरंत एयरलाइन कंपनी को फोन करके इसकी जानकारी लें। छोटे शहरों में केवल एक ही एयरपोर्ट होता है लेकिन बड़े शहरों में एक से ज्यादा एयरपोर्ट होते हैं। जैसे दिल्ली और मुंबई में दो एयरपोर्ट हैं।